रघुवर का आरोप आयुष्मान योजना के प्रीमियम का भुगतान नहीं किया हेमन्त सरकार ने, जिससे मरीजों की परेशानी बढ़ी

आयुष्मान भारत योजना में राज्य सरकार द्वारा अपने हिस्से के प्रीमियम का भुगतान नहीं करने की वजह से झारखंड के

Read more

RSS में प्रेस क्लब या प्रेस क्लब में RSS, RSS को प्रेस क्लब में कब से दिलचस्पी होने लगी?

आम तौर पर माना जाता है कि आरएसएस या आरएसएस के लोग प्रचार-प्रसार से दूरी बनाए रखते हैं, वे बहुत कम अवसर पर ही स्वयं को जरुरत के अनुसार प्रकट करते हैं, पर अब चूंकि प्रचार-प्रसार का युग हैं, इसलिए अब शायद RSS व RSS के लोगों ने भी हर छोटी से छोटी बातों में भी खुद को हाइलाइट करने का वो सारा नुस्खा आजमाने में लगे हैं, जो विभिन्न राजनीतिक दलों के क्षुद्र राजनीतिक नेताओं का समूह किया करता हैं।

Read more

दिल्ली से आई थी, ये हंस/बोल/दौड़ रही थी, मात्र 15 दिनों में ये मर कैसे गई? रघुवर सरकार जवाब दो?

25 सितम्बर को दिल्ली से रांची 16 वैसी बच्चियों को लाया गया था, जिन्हें किसी न किसी तरह काम के नाम पर वहां बेच दिया गया था। रांची जंक्शन पर आई ये बच्चियां बहुत खुश थी, क्योंकि वह अपने घर वापस लौट रही थी। इन्हीं में से एक थी गोड्डा जिले से पहाड़िया जन-जाति की 17 साल की एक आदिवासी बच्ची। उसने अपने उपर हुए अमानवीय अत्याचार की ऐसी दर्द भरी दास्तान सुनाई, कि स्टेशन पर खड़ें सभी लोगों के आंखों में आंसू आ गये।

Read more

देश के पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बन गये, जिन्हें काले रंग से बहुत डर लगता है…

खुद को कभी छप्पन इंच के सीना वाले घोषित करनेवाले हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को, इन दिनों काले रंग से बहुत डर लग रहा है, वे काला रंग देखते ही भड़क जाते हैं, शायद उन्हें लगता है कि कहीं कोई अहित न हो जाये, इसलिए उनकी जहां-जहां अब भाषण, रैलियां या कोई कार्यक्रम आयोजित होता है, उनके सुरक्षा में लगे लोग, इस बात का ध्यान रखते हैं कि पीएम मोदी को कहीं काले रंग से वास्ता न पड़ जाये।

Read more

मोदी की सभा से रांचीवासियों ने बनाई दूरी, आयुष्मान योजना को लेकर लोगों में संशय, भीड़ लाने का काम IAS के जिम्मे

अरे भाई, देश में तो भोजन का अधिकार लागू है, तो क्या… देश में लोग भूख से नहीं मर रहे। इसी मोदी सरकार ने मुद्रा योजना लागू किया, तो क्या… उस मुद्रा योजना का लाभ ले रहे परिवारों की किस्मत बदल गई, या वे बैंकों के अधिकारियों और राज्य सरकार के वित्त सेवा में लगे अधिकारियों/कर्मचारियों के गुलाम बनकर, अपने भविष्य को चौपट कर लिया

Read more