शरीफ के घर में आग लगे तो गुंडा … सेंके, भारत कोरोना से कराहे तो दैनिक भास्कर, विदेशी अखबारों के संग मजा लेवे…

जी हां, एक लोकोक्ति है, जो भारत में खूब प्रचलित है, शरीफ के घर में आग लगे तो गुंडा … सेंके, ठीक उसी प्रकार मैं देख रहा हूं कि भारत कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से कराहे, तो दैनिक भास्कर, विदेशी अखबारों के संग मजा लेने को बेकरार हो जाये, यहीं नहीं उन विदेशी अखबारों के प्रमुख वाक्यांशों को अपने स्थान में जगह दे दें, और भारत को पूरे विश्व में शर्मसार करें। अब सवाल उठता है कि दैनिक भास्कर ने जिन विदेशी अखबारों के हवाले से भारत को शर्मसार करने की कोशिश की,

Read more

याद रखो बेशर्मों, इस कालचक्र को समझो, नहीं तो कौड़ी के तीन हो जाओगे, ये धन बनाने का नहीं, सेवा का समय है

मैं बार-बार कह रहा हूं, यह समय किसी भी व्यक्ति या दल या सरकार में दोष ढूंढने का नहीं, बल्कि यह समय हैं – धैर्य पूर्वक, दृढ़ता के साथ उस संकट से लड़ने का, जो फिलहाल पूरी मानवता को नष्ट करने पर तूला है। यह चीन के वुहान से कोरोना के रुप में निकला जैविक हथियार बता रहा है कि ऐसे संकट अब बार-बार विश्व को झेलने पड़ेंगे, इसलिए इसके लिए आज से ही तैयार हो जाइये, क्योंकि चीन जैसा देश, जब अपने में आयेगा तो वह किसी को चैन से सोने नहीं देगा।

Read more

ये नोट और शहरों के नाम बदल दें तो सही और हेमन्त राज्य के स्वाभिमान को जगाने के लिए लोगो बदल दें तो गलत

इनके लोग कोरोना काल में मध्यप्रदेश में चल रही कांग्रेस सरकार की तख्ता पलट दें, तो सही है। ये राजस्थान में भी चल रही अच्छी भली सरकार को डिस्टर्ब कर दें, तो सही है। ये कोरोना काल में अमरीका के राष्ट्रपति की आवभगत में खुद को साष्टांग दंडवत् की मुद्रा में सब को दिखा दें, और कोरोना से लड़ने के लिए सही काम करना बंद कर दें, तो सही है। ये बिहार में पुनः सत्ता प्राप्त करने के लिए चुनाव लड़ने की मुद्रा में आ जाये तो ठीक है, वह भी तब जब बिहार के लोग कोरोना और बाढ़ से त्राहिमाम कर रहे हैं,

Read more

इरफान हबीब की सोच और BBC की हिन्दी सेवा से भारतीयों को सर्वाधिक सावधान होने की जरुरत

भारत में 2019 में लोकसभा के चुनाव होने हैं। इस लोकसभा चुनाव को देख तथा कुछ राज्यों में चल रहे विधानसभा चुनावों को लेकर विदेशी मीडिया में शामिल इस्लामिक/ईसाई/वामपंथी, विद्वानों/पत्रकारों/इतिहासकारों को भारत देश की चिन्ता सता रही हैं, चिन्ता उन्हें ज्यादा सता रही है, जिन्होंने कभी कार से उतरकर, बचपन में किसी दुकान से लेमनचूस नहीं खरीदा और न ही,

Read more

USA ने PAK की औकात बताई, एयरपोर्ट पर PAK PM के कपड़े उतरवाएं, पाकिस्तान में बवाल

कल वे जिनके बल पर कूदते थे, आज वे ही उनके कपड़े उतरवा रहे हैं और वे बड़े कायदे से उनके आगे अपने एक-एक कपड़े उतारने को मजबूर हैं, ये सबक है उन पाकिस्तानियों के लिए, ये सबक उन भारत में रहनेवाले असंख्य पाकिस्तानी समर्थकों के लिए भी, कि जिनके लिए तुम भी अपना सब कुछ लूटवाने के लिए तैयार रहते हो, जरा देख लो उस पाकिस्तान की क्या हालात है? उसके प्रधानमंत्री की क्या हालात है?

Read more

CM साहेब, क्षमा मांगने से कोई छोटा नहीं हो जाता, थोड़ा बड़प्पन दिखाइये

CM साहेब, याद रखिये, दुनिया का कोई भी व्यक्ति, अगर किसी से, किसी बात को लेकर क्षमा मांगता हैं, तो वह इस कारण से, छोटा नहीं हो जाता, बल्कि वह और उसका व्यक्तित्व और निखरता हैं। शायद यहीं कारण रहा होगा कि सुसिद्ध कवि रामधारी सिंह दिनकर ने लिखा –क्षमा शोभती उस भुजंग को
जिसके पास गरल हो, उसको क्या जो दंतहीन, विषरहित, विनीत, सरल हो।

Read more

आईएएस नहीं हुआ, भगवान हो गया…

इस पुरी दुनिया में जितने भी बड़े-बड़े घोटाले हुए, वे घोटाले करनेवाले कोई अनपढ़ नहीं थे, सभी अव्वल दर्जें के पढ़ाकु थे। इनलोगों को पढ़ाकु, उन्हीं के परिवार के लोगों जैसे – उनके माता-पिता ने बनाया था, पर पढ़ने का मूल मकसद क्या होता है? वह नहीं बताया, क्योंकि उन्हें भी पता नहीं था कि पढ़ने का मतलब क्या होता है? चूंकि उनके माता-पिता ने पढ़ाया, पढ़ते-पढ़ते नौकरी मिल गयी

Read more